फ़िल्मों में लेखक को किरदार का नाम भी सोच समझकर रखना पड़ता है। फ़िल्मों में किरदारों के नाम भी कभी-कभी हीरो के लिए इतने लकी होते हैं कि वह भी उसे सफल बनाते हैं। एक बार ऐसा हुआ नहीं कि फिर बार-बार हीरो उसी नाम को रखने लगते है। हम ऐसे ही एक हीरो की बात कर रहे हैं आज जिसका जन्मदिन है.

जैकी ने अपनी फ़िल्म करियर की शुरूवात ‘हीरो’ फ़िल्म से की थी। जिन फ़िल्मों में जैकीश्रॉफ के किरदार का नाम राम रहा वह ज़्यादातर फ़िल्में बॉक्स ऑफिस पर सफल रहीं। जानिए वह फ़िल्में कौन-कौन सी हैं।

‘राम-लखन’

फ़िल्म के नाम से ही पता चलता है फ़िल्म दो भाई राम और लखन की कहानी है। राम बिल्कुल रामायण के राम जैसा है। लखन लेकिन महाभारत के कन्हेया जैसा है। फ़िल्म की बाकी कहानी वैसी ही है, जैसी सबकी होती है। फ़िल्म काफी सफल  रही थी।

ramlakhan
source

‘100 डेज़’

एक क़ातिल जो रात को अंधेरे में निकलता है, जिसकी तलाश में एक पुलिस वाला राम भटक रहा है। यह पुलिस वाला राम जैकी दादा है। फ़िल्म सस्पेंस थ्रिलर थी, फ़िल्म को लोगों ने काफी पसंद किया था। इस फ़िल्म में भी जैकी का नाम राम ही था।

maxresdefault (1)
source

‘तेरी मेहरबानियां’

ऑफिसर राम के पास एक कुत्ता होता है। गांव का जमींदार ऑफिसर को मार देता है। ऑफिसर का कुत्ता जमींदार के गुंड़ों को एक-एक करके मारता है। उस कुत्ते के पीछे पुलिस पड़ी हुई है। वह कुत्ता गांव के जमीनदार अमरीशपुरी को मारकर राम का बदला लेता है। राम अपने जैकी दादा थे।

TeriMeherbaniyan
source

‘पुलिस ऑफिसर’

जैकी दादा की सफल फ़िल्मों में उनका नाम राम होता था। यह बात चलो मानी भी जाये, लेकिन उन्हीं फ़िल्मों में राम होता था, जिन फ़िल्मों में वह पुलिस वाले होते थे।

maxresdefault (2)
source

‘ख़लनायक’

“जी हां! मैं हूं खलनायक” इस फ़िल्म में भी वही फारमूला: एक भाई है जो राक्षस बन चुका है, दूसरा भाई है जो साक्षात राम है। यह राम कोई औऱ नहीं हमारे जैकी दादा हैं।

khalnayak
source

जैकीश्रॉफ की इन्हीं फ़िल्मों के साथ उन्हें जन्मदिन की बहुत-बहुत बधाई।